Blog YouTube Twitter Facebook Follow
us on
Skype
Affiliated To: J.N.C. University, Ballia
स्थापित वर्ष: 1969

1. बी० ए० संचालित कोर्स एवं विषय

अनिवार्य विषय

बी० ए० भाग 1 में राष्ट्र गौरव, बी० ए० भाग 2 में पर्यावरण

वैकल्पिक विषय

निम्नलिखित विषयों में से कोई तीन विषय लेने होंगे |
1. हिन्दी (Hindi)
2. संस्कृत (Sanskrit)
3. शिक्षा शास्त्र (Education)
4. राजनीतिशास्त्र (Political Science)
5. समाजशास्त्र (Sociology)
6. अर्थशास्त्र (Economics)
7. संगीत (Music)
8. मनोविज्ञान (Psychology)

नोट – बी० ए० तृतीय वर्ष में पूर्व चयनित विषयों में से किन्हीं दो का ही चयन करना होगा |

2. एम० ए० में संचालित विषय

1. मनोविज्ञान (Psychology)

विषयवार सीटों की संख्या –

विषय तथा वर्ग में परिवर्तन

एक बार जिस विषय या वर्ग में छात्र का नाम लिख जायेगा, उसमें सामान्यत: परिवर्तन नहीं किया जा सकेगा | यदि किन्ही कारणों से विद्यार्थी ऐसा परिवर्तन करना चाहे तो वह (निर्धारित तिथि जिसे बाद में घोषित किया जायेगा) के भीतर अपने प्रार्थना-पत्र पर छोड़े जाने वाले और लिये जाने वाले दोनों विषयों के विभागाध्यक्षों की अनुमति अंकित करायेगा और उसे प्राचार्या के सम्मुख प्रस्तुत करेगा | इस सम्बन्ध प्राचार्या का निर्णय ही अन्तिम होगा |
1 – विषय परिवर्तन की अनुमति मिल जाने पर विद्यार्थी का यह उत्तरदायित्व होगा कि वह तुरन्त महाविद्यालय के कार्यालय से सम्पर्क स्थापित कर अपने आवेदन पत्र तथा अन्य प्रपत्रों में तत्सम्बन्धी सुधार करा लें |

शुल्क तथा अन्य परिव्यय

विद्यार्थी को प्रवेश के समय वार्षिक शुल्क देना होगा | विद्यार्थी को अपने विषय से सम्बन्धित प्राध्यापकों को शुल्क रसीद दिखाकर उनकी उपस्थिति पंजिका में अपना नाम लिखाना होगा | शासनादेश के अन्तर्गत प्रत्येक प्रवेशार्थी से पुरे वर्ष का शुल्क एक मुश्त जमा कराया जायेगा |